बैंकिंग

Difference Between IMPS, NEFT & RTGS: फुल फॉर्म, ट्रांजैक्शन लिमिट, फीस और सर्विस टाइमिंग के साथ जानिए सबकुछ

Difference Between IMPS, NEFT & RTGS: फुल फॉर्म, ट्रांजैक्शन लिमिट, फीस और सर्विस टाइमिंग के साथ जानिए सबकुछ
Nikita
Nikita

आजकल, एनईएफटी, आरटीजीएस और आईएमपीएस जैसे विभिन्न ऑनलाइन तरीकों से फंड ट्रांसफर करना आसान है। पर क्या आप इन तीनो मेथड के बीच का अंतर जानते हैं? यदि नहीं! तो, आज का यह आर्टिकल आपको तीनों के बीच अंतर (Differences Between IMPS, NEFT and RTGS) को समझने में मदद करेगा।

NEFT का अर्थ (NEFT Full Form)

हिंदी में NEFT का फुल फॉर्म नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर है। जो 2005 में आरबीआई (RBI) द्वारा शुरू किया गया एक इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर सिस्टम है। संगठन, कंपनियां और व्यक्ति इसका उपयोग नजदीकी बैंक ब्रांच जाएं बिना घर बैठे, एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर कर सकते है।

RTGS का अर्थ (RTGS Full Form)

RTGS का पूरा नाम रियल-टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (Real-Time Gross Settlement) है। यदि आप पैसे ट्रांसफर करने के लिए इस ऑनलाइन भुगतान प्रणाली का उपयोग करते हैं, तो राशि उसी समय में लाभार्थी के अकाउंट में जमा हो जाएगी।

IMPS का अर्थ (IMPS Full Form)

IMPS की फुल फॉर्म (Immediate Mobile Payments Services) है। यह ऑनलाइन पेमेंट सिस्टम द्वारा फंड ट्रान्सफर करने से पैसा उसी समय ट्रांसफर हो जाते है।

NEFT, RTGS और IMPS में तुलना (Difference Between NEFT vs RTGS vs IMPS)

ट्रांजैक्शन लिमिट: (NEFT vs RTGS vs IMPS Limit)

  • एनईएफटी (NEFT) से आप न्यूनतम राशि 1 रुपये ट्रांसफर कर सकते हैं, अधिकतम राशि की कोई सीमा नहीं है।
  • IMPS भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने पहले IMPS की सीमा 2 लाख रुपये प्रति दिन निर्धारित की थी। हालांकि इस पेमेंट मेथड की बढ़ती मांग को देखते हुए, उन्होंने IMPS की प्रति दिन की लिमिट 5 लाख कर दी है।
  • आरटीजीएस (RTGS) के जरिए पैसे ट्रांसफर करने के लिए न्यूनतम राशि 2,00,000 रुपये और अधिकतम राशि कितनी भी हो सकती है।

सर्विस टाइमिंग: (NEFT vs RTGS vs IMPS Timing)

  • NEFT पूरे साल और 24/7 उपलब्ध।
  • RTGS साल के 365 दिन और 24/7 उपलब्ध है।
  • IMPS की सर्विस टाइमिंग साल के 365  दिन और 24/7 उपलब्ध है।

भुगतान के तरीके (NEFT vs RTGS vs IMPS Payment Modes)

  • ये फंड ट्रांसफर के तरीके NEFT, RTGS और IMPS ऑनलाइन ट्रांजैक्शन के लिए काम करते हैं।
  • लेकिन NEFT और RTGS ऑफलाइन फंड ट्रांसफर की भी अनुमति देता है। आप पैसे ट्रांसफर करने के लिए सभी आवश्यक डिटेल्स और दस्तावेजों के साथ किसी भी बैंक ब्रांच में एनईएफटी ट्रांसफर फॉर्म भर सकते हैं।

बैंक द्वारा लगाया गया शुल्क (NEFT vs RTGS vs IMPS Charges)

  • NEFT: इनवार्ड ट्रांजैक्शन और ऑनलाइन प्रक्रिया के लिए कोई शुल्क नहीं लगाया जाता है।
  • RTGS: इनवार्ड ट्रांजैक्शन और ऑनलाइन प्रक्रिया के लिए कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा। आउटवार्ड ट्रांजैक्शन पर शुल्क लिया जाएगा अगर राशि: 2 लाख से 5 लाख तक के लिए 25 रुपये (+ GST) 5 लाख से अधिक के लिए 50 रुपये (+ GST)
  • IMPS: इसका शुल्क अलग-अलग हो सकता है क्योंकि यह शुल्क बैंक तय करते है GST को मिला कर।

फंड सेटलमेंट का समय (NEFT vs RTGS vs IMPS Fund Settlement Time)

  • NEFT (नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर) में ट्रांसफर प्रक्रिया पूरी होने में 30 मिनट से लेकर 2 घंटे तक का समय लग सकता है।
  • जबकि IMPS और RTGS रियल टाइम में पैसे ट्रांसफर प्रक्रिया पूरी कर देते है।

IMPS, NEFT और RTGS के बीच अंतर पर अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

NEFT vs RTGS में से जल्द भुगतान करने के लिए अच्छा विकल्प कौन सा है?

जल्द भुगतान करने का सबसे बढ़िया तरीका आपके ट्रांजैक्शन की राशि पर निर्भर करता है। यदि आपके पास 2 लाख रुपये से अधिक का ट्रांजैक्शन है, तो आरटीजीएस (RTGS) भुगतान का एक फास्ट मोड़ है। हालांकि, कम राशि के किसी भी भुगतान के लिए, NEFT भुगतान का कुशल तरीका है।

NEFT vs RTGS vs IMPS की फुल फॉर्म (NEFT vs RTGS vs IMPS Full Form)

  • RTGS  फुल फॉर्म  रियल-टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (Real-Time Gross Settlement)
  • IMPS फुल फॉर्म इमीडियेट मोबाइल पेमेंट सर्विस (Immediate Mobile Payments Services)
  • NEFT  फुल फॉर्म नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (National Electronic Funds Transfer)

क्या NEFT के माध्यम से पैसे भेजने की कोई लिमिट है? (NEFT Limit)

नहीं, NEFT के माध्यम से फंड ट्रांसफर के लिए RBI द्वारा कोई लिमिट निर्धारित नहीं है। हालांकि बैंक एक लिमिट निर्धारित कर सकते हैं। लेकिन अधिकांश बैंक आपको अपनी इच्छानुसार ट्रांजैक्शन करने की अनुमति देते हैं।

IMPS पर लगने वाला शुल्क कितना है?

शुल्क अलग-अलग हो सकता है क्योंकि यह शुल्क बैंक तय करते है। हालांकि यह 2.5 से 25 रुपये के बीच हो सकता है जीएसटी के साथ।

ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर के तरीके कौन से हैं?

ऑनलाइन मनी ट्रांसफर के विभिन्न तरीकों में RTGS, IMPS, NEFT, UPI और डिजिटल वॉलेट शामिल हैं।

फंड सेटलमेंट में कितना का समय लगता है?

NEFT में ट्रांसफर प्रक्रिया पूरी होने में 30 मिनट से लेकर 2 घंटे तक का समय लग सकता है।  जबकि IMPS और RTGS रियल टाइम में पैसे ट्रांसफर प्रक्रिया पूरी कर देते है।

क्या आरटीजीएस (RTGS)भुगतान का तरीका सुरक्षित है?

आरटीजीएस भुगतान मेथड सुरक्षित है क्योंकि इसका उपयोग मुख्य रूप से अधिक धनराशि ट्रांजैक्शन के लिए किया जाता है। जिसकी निगरानी सरकार द्वारा की जाती है।

अन्य ब्लॉग

SBI MUDRA Loan- जानें एसबीआई ई-मुद्रा लोन क्या है और...

Vandana Punj
Vandana Punj

कैश क्रेडिट (Cash Credit) एक शॉर्ट टर्म लोन होता है,...

Vandana Punj
Vandana Punj

PAN Card Form- जानें पैन कार्ड फॉर्म 49A और 49AA क्य...

Vandana Punj
Vandana Punj