पर्सनल लोन

रहना है पर्सनल लोन घोटालों से सावधान तो इन बातों का रखें खास ध्यान

रहना है पर्सनल लोन घोटालों से सावधान तो इन बातों का रखें खास ध्यान
Nikita
Nikita

जब आपको खर्चों या वित्तीय आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए पैसों की जरूरत होती है तब पर्सनल लोन आपके लिए मददगार साबित हो सकता है, लेकिन दूसरी तरफ जब आप पर्सनल लोन लेने की सोच रहें हों तो घोटालेबाजों से खुद को बचाना महत्वपूर्ण है।

पर्सनल लोन घोटाले से बचने के अपनाएं ये टिप्स

किसी के साथ शेयर न करे अपनी पर्सनल इनफार्मेशन 

घोटालेबाज अक्सर लोन की तलाश करने वाले पीड़ितों को जल्दी और आसान तरीके से लोन देने के वादों के साथ लुभाते हैं, और कम ब्याज दरों की पेशकश करते हैं। यदि वे लोन देने से पहले किसी भी प्रकार का शुल्क मांग रहे हैं,आपको लोन पर अच्छे ऑफर दे रहे हैं और आपके क्रेडिट हिस्ट्री की जांच किए बिना लोन मंजूरी की गारंटी देते हैं, तो समझें कि यह संभवतः एक घोटाला है।

ऐसे में आपको सावधानी बरतनी चाहिए: कम ब्याज दर और पर्सनल लोन के अच्छे ऑफर्स के लालच में अपनी व्यक्तिगत जानकारी जैसे पासवर्ड, पिन, ओटीपी, पैन और आधार जैसे दस्तावेजों को किसी के साथ भी शेयर न करें। ऐसा करने से आपका पर्सनल डेटा कब घोटालेबाजों के हाथ लग जाए आपको पता भी नहीं चलेगा। यह हमेशा ध्यान रखें कि कोई बैंक/एनबीएफसी/फिनटेक अधिकारी आपसे कभी भी पासवर्ड, एटीएम पिन जैसी गोपनीय जानकारी नहीं मांगता हैं।

ये भी पढ़ें: जल्दी चुकाना चाहते है अपना पर्सनल लोन? तो फॉलो करें ये टिप्स 

जल्दबाजी में न ले कोई भी फैसला

धोखाधड़ी के मामलों में अक्सर देखा गया है कि घोटालेबाज लोगों को विचार-विमर्श के बिना जल्दबाजी में फैसला लेने का दवाब डालते है। यह बोलकर भी लोगों को अपने जाल में फंसाते है कि ‘पर्सनल लोन का यह ऑफर सीमित समय के लिए है तुरंत स्वीकार करें’ जिससे व्यक्ति को कुछ सोचने समझने का ही समय न मिल पाए। यदि आप पर पूरी जानकारी के बिना तुरंत कार्रवाई करने का दबाव है, तो आपको इन बातों पर जरूर विचार करना चाहिए। क्योंकि कोई भी बैंक/एनबीएफसी/फिनटेक कंपनी किसी भी प्रकार का दवाब डालें बिना आपको अपने सभी विकल्पों पर  सावधानीपूर्वक विचार करने लिए समय देती है और आपको पर्सनल लोन से जुड़ी किसी ही प्रकार की जानकारी देने के लिए तैयार रहती हैं। 

ऑफिस एड्रेस और कांटेक्ट इनफार्मेशन को चेक करें 

एक वास्तविक लोन देने वाली संस्था के पास हमेशा एक ऑफिस एड्रेस और वैलिड कांटेक्ट डिटेल्स होती है जहां पर आप उनसे संपर्क कर सकते है और पर्सनल लोन से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। उन प्लेटफ़ॉर्म से सावधान रहें जिनमें इस जानकारी का अभाव है। किसी भी संस्था के बारे में जानने के लिए कि वह प्लेटफार्म वेध और सुरक्षित हैं या नहीं उसके बारे में सर्च करें जानकारी निकाले लोगों के द्वारा रिव्यू पढ़ें, थोड़ा सा भी शक होने पर उस प्लेटफार्म दूर रहें। 

पर्सनल लोन आवेदन करने वाली वेबसाइट सुरक्षित है या नहीं चेक करें 

किसी भी लोन देने वाली संस्था की वेबसाइट पर जाते समय, हम अक्सर जो नहीं देखते है वह है उसका URL (यूनिफ़ॉर्म रिसोर्स लोकेटर) जो काफी महत्वपूर्ण होता है ये जानने के लिए कि क्या वह वेबसाइट सुरक्षित है या नहीं। यह पता करने के लिए आप देख सकते हैं कि उसका वेब एड्रेस या URL “HTTP” से शुरू हो रहा है या “HTTPS” से ( “s” का अर्थ “secure” है)।  यदि किसी साइट का URL, HTTP से शुरू होता है, तो इसका मतलब है कि कनेक्शन सुरक्षित नहीं है और यदि “HTTPS” से शुरू होता है तो कनेक्शन सुरक्षित है। ये सुरक्षा उपाय हैकर्स से आपकी किसी भी प्रकार कि जानकारी को चोरी होने से बचाते है। 

ये भी पढ़ें: नहीं मिल रहा पर्सनल लोन? ये लोन ऑप्शन आ सकते हैं आपके काम

निष्कर्ष

जानकारी होना और सावधान रहना पर्सनल लोन घोटालों से बचने का तरीका है। हमेशा लोन लेने से पहले विचार-विमर्श करें जानकारी इकट्ठी करें की जो बैंक या NBFC आपको लोन ऑफर कर रहे है क्या वो वेरीफाई है। सर्टिफिकेशन के बिना कभी भी संवेदनशील जानकारी शेयर न करें। 

 

अन्य ब्लॉग

NEFT क्या है? NEFT का फुल फॉर्म और यह कैसे काम करता है? जानिए सबकुछ

आज के इस आर्टिकल में हम NEFT के प्रमुख पहलुओं पर चर्...

Nikita
Nikita
Difference Between IMPS, NEFT & RTGS: फुल फॉर्म, ट्रांजैक्शन लिमिट, फीस और सर्विस टाइमिंग के साथ जानिए सबकुछ

आजकल, एनईएफटी, आरटीजीएस और आईएमपीएस जैसे विभिन्न ऑनल...

Nikita
Nikita

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) अपने कर्मचारियों...

Vandana Punj
Vandana Punj