बैंकिंग

डिजिलॉकर में आपके सभी डॉक्यमेंट्स रहेंगे सेफ, जानें इसके बारे में सबकुछ

डिजिलॉकर में आपके सभी डॉक्यमेंट्स रहेंगे सेफ, जानें इसके बारे में सबकुछ
Bharti
Bharti

डिजिटल इंडिया को बढ़ावा देने के लिए डिजिलॉकर को शुरू किया गया था। यह एक डिजिटल लॉकर है जिसमें आप अपने ज़रूरी डॉक्यूमेंट्स जैसे-वोटर आईडी, पासपोर्ट, मार्कशीट आदि अपलोड कर सकते हैं। इसके अलावा, इसमें रखे गए डॉक्यूमेंट्स को आप ट्रैफिक पुलिस, रेल यात्रा के दौरान वेरिफिकेशन के लिए भी दिखा सकते हैं।

क्या है डिजिलॉकर?

डिजिलॉकर (digital locker kya hai) एक तरह का वर्चुअल लॉकर है, जिसमें आप अपने सभी डॉक्यूमेंट्स जैसे- पैन कार्ड, सर्टिफिकेट, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी कार्ड आदि को सुरक्षित रख सकते हैं।

डिजिलॉकर का इस्तेमाल कैसे करें?

डिजिलॉकर का इस्तेमाल करने के लिए इसमें अकाउंट बनाना ज़रूरी है। आप digilocker.gov.in पर जाकर अकाउंट बना सकते हैं। इसके अलावा आप ऐप स्टॉर से डिजिलॉकर ऐप भी डाउनलोड कर सकते हैं। डिजिलॉकर में अकाउंट (digilocker account kya hota hai) बनाने का स्टेप-बाय-स्टेप तरीका नीचे दिया गया है:-

डिजिलॉकर में अकाउंट बनाने का तरीका

  • सबसे पहले आप डिजिलॉकर की वेबसाइट digilocker.gov.in पर जाएं
  • पेज के दाईं तरफ ‘Sign Up’ के ऑप्शन पर क्लिक करें
  • एक फॉर्म खुलकर आएगा इसमें अपना नाम, जन्म तिथि,जेंडर, ईमेल आईडी आदि जानकारी दर्ज करें
  • अब 6 अंकों का एक पिन बनाएं
  • सबमिट करने के बाद आपके नंबर पर एक OTP भेजा जाएगा, उसे दर्ज करें
  • अब यूजरनेम और पासवर्ड क्रिएट करने के बाद लॉग इन करें

डिजिलॉकर सिक्योरिटी पिन रीसेट कैसे करें?

डिजिलॉकर का अकाउंट बनाते समय सिक्योरिटी पिन (digilocker security pin kya hota hai) बनाना होता है। यह पिन आपके अकाउंट को सुरक्षित रखने का काम करता है। अगर आप अपना सिक्योरिटी पिन भूल गए हैं, तो इन तरीकों से इसे रीसेट कर सकते हैं:-

  • https://www.digilocker.gov.in/ पर जाएं और ‘Sign In’ पर क्लिक करें।
  • ‘Forget Security PIN’ पर क्लिक करें।
  • अपना आधार नंबर और DOB दर्ज करें और ‘Submit’ पर क्लिक करें।
  • अब ‘Try using Aadhaar OTP instead’ पर क्लिक करें।
  •  इसके बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर OTP भेजा जाएगा।
  • OTP और कैप्चा टेक्स्ट दर्ज करें और ‘Submit’ पर क्लिक करें।
  • अपना नया सिक्योरिटी पिन सेट करें।

डिजिलॉकर के तहत मिलने वाली सुविधाएं

  • आप DigiLocker पर ड्राइविंग लाइसेंस और RC (रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट) का इस्तेमाल मूल ड्राइविंग लाइसेंस और RC के स्थान पर किया जा सकता है, यानी आप वेरिफिकेशन के दौरान यह दोनों दस्तावेज़ डिजिलॉकर के ज़रिए दिखा सकते हैं।
  • ट्रेन में पहचान प्रमाण के लिए आप डिजिलॉकर से दस्तावेज़ दिखा सकते हैं। लेकिन इस बात का ध्यान रखें इसे तभी वैलिड माना जाएगा जब ये “Issued Documents” के सेक्शन में होंगे।  “Uploaded Documents” के सेक्शन में मौजूदा डॉक्यूमेंट वैलिड नहीं माने जाएंगे।
  • डिजिलॉकर स्कूल-कॉलेज की डिजिटल मार्कशीट और सर्टिफिकेट प्राप्त करने का विकल्प देता है।
  • डिजिलॉकर ई-साइन की सुविधा भी देता है, जिसके ज़रिए आप अपने डॉक्यूमेंट्स को सेल्फ अटेस्ट कर सकते हैं।

डिजिलॉकर का इस्तेमाल करने के लाभ

  • डिजिलॉकर का इस्तेमाल (how to use digilocker) कर आपको डॉक्यूमेंट की हार्ड कॉपी को हर जगह लेकर घूमना नहीं होगा।
  • डिजिलॉकर के डॉक्यूमेंट्स का कभी भी कहीं भी इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • डिजिटल लॉकर रखे गए डॉक्यूमेंट कहीं भी दे सकते हैं, इन्हें ऑरिजनल डॉक्यूमेंट की तरह ही ट्रीट किया जाता है। क्योंकि इसमें रखे गए दस्तावेज सीधे रजिस्टर्ड जारीकर्ताओं जैसे रजिस्ट्रार ऑफिस, आयकर विभाग,आदि द्वारा जारी किए जाते हैं।
  • डिजी लॉकर में रखे गए डॉक्यूमेंट के खोने का डर नहीं रहता। और अगर आपके ऑरिजनल डॉक्यूमेंट गुम हो जाते हैं, तब भी डिजिलॉकर में आपके डॉक्यूमेंट सुरक्षित रहेंगे।
  • डिजिलॉकर के डॉक्यूमेंट का इस्तेमाल आपका अलावा कोई और नहीं कर सकता। इसके मिस यूज होने का खतरा कम रहता है।
  • डिजिलॉकर के ज़रिए आप अपने दस्तावेज़ों को ई-साइन कर सकते हैं।
  • डिजिलॉकर का इस्तेमाल एकदम मुफ्त में किया जा सकता है।
  • इस ऐप के ज़रिए आप अपने दस्तावेज़ों को ऑनलाइन शेयर कर सकते हैं।

डिजिलॉकर से संबंधित प्रश्न 

डिजिलॉकर कस्टमर केयर से कैसे संपर्क करें?

अगर आपको डिजिलॉकर की किसी सर्विस का उपयोग करने में मुश्किलें आ रही हैं तो आप https://www.digilocker.gov.in/about/contact-us पर जाकर ‘Raise a query’ के विकल्प के ज़रिए अपनी किसी भी समस्या का समाधान पा सकते हैं। डिजिलॉकर कस्टमर केयर को संपर्क (digilocker customer care number) करने के लिए कोई नंबर उपलब्ध नहीं है।

डिजिलॉकर में डॉक्यूमेंट कैसे डाउनलोड करें?

डिजिलॉकर से अपने डॉक्यूमेंट्स डाउनलोड करने के लिए अपलोड किए गए डॉक्यूमेंट्स के सेक्शन पर जाकर ‘Download’ के विकल्प पर क्लिक करें। इस तरह आप ऑफलाइन डॉक्यूमेंट्स को एक्सेस कर पाएंगे।

डिजिलॉकर में डॉक्यूमेंट कैसे अपलोड करें?

डिजिलॉकर में डॉक्यूमेंट अपलोड करने के लिए ‘Uploaded Documents’ के सेक्शन पर जाएं। अब अपलोड करने के आइकन पर क्लिक करें। इसके बाद अपने ड्राइव में जाकर ‘Open’ का विकल्प चुनें और डॉक्यूमेंट डाउनलोड करें।

मेरा मोबाइल नंबर आधार में अपडेट नहीं है। क्या इसके बिना आधार नंबर डिजिलॉकर से लिंक किया जा सकता है?

नहीं, इसके लिए आपको अपने आधार कार्ड में नया मोबाइल नंबर अपडेट कराना होगा। आप अपने नज़दीकी आधार सेवा केंद्र जाकर आधार नंबर अपडेट करा सकते हैं।

आधार नंबर दर्ज करते समय ‘UID service temporarily unavailable’ दिखाई दे रहा है, कैसे ठीक करें?

डिजिलॉकर या UIDAI की वेबसाइट में कभी-कभी टेक्निकल प्रॉबल्म की वजह से यह एरर मेसेज दिखाई दे सकता है। ऐसा होने पर कुछ समय बाद फिर से कोशिश करनी चाहिए।

अन्य ब्लॉग

NEFT क्या है? NEFT का फुल फॉर्म और यह कैसे काम करता है? जानिए सबकुछ

आज के इस आर्टिकल में हम NEFT के प्रमुख पहलुओं पर चर्...

Nikita
Nikita
Difference Between IMPS, NEFT & RTGS: फुल फॉर्म, ट्रांजैक्शन लिमिट, फीस और सर्विस टाइमिंग के साथ जानिए सबकुछ

आजकल, एनईएफटी, आरटीजीएस और आईएमपीएस जैसे विभिन्न ऑनल...

Nikita
Nikita

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) अपने कर्मचारियों...

Vandana Punj
Vandana Punj