सेविंग स्कीम

PF से जुड़ी समस्या से हो गए हैं बदहाल? ऐसे पाएं उसका समाधान

PF से जुड़ी समस्या से हो गए हैं बदहाल? ऐसे पाएं उसका समाधान
Bharti
Bharti

अगर आपको अपने EPF अकाउंट से जुड़ी कोई समस्या जैसे आपका अकाउंट काम नहीं कर रहा, अकाउंट की किसी सर्विस का उपयोग नहीं कर पा रहे या फिर क्लेम में मुश्किल आ रही है तो आप इसकी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। EPF से जुड़ी कोई भी शिकायत EPF i-Grievance मैनेजमेंट सिस्टम (EPFiGMS) के माध्यम की जाती है।

ऑनलाइन ऐसे करें शिकायत

ईपीएफ से जुड़ी कोई भी शिकायत होने पर एंप्लॉयीज प्रोविडेंट फंड ऑर्गेनाइजेशन (EPFO) के अधिकारिक पोर्टल (epf grievance portal) EPFIGMS में इसे दर्ज करा सकते हैं। यह सुविधा ईपीएफ के सदस्य, पेंशनर, एंप्लॉयर्स और EPF से जुड़े लोगों को मिलती है। शिकायत करते समय अगर उससे जुड़ा कोई डॉक्यूमेंट हो तो उसे पहले से ही तैयार रखें, फिर नीचे दिए गए पूरे प्रोसेस को फॉलो करें:-

  • EPFIGMS की आधिकारिक वेबसाइट https://epfigms.gov.in/ पर जाएं
  • ‘Register Grievance’ का विकल्प चुनें
  • अब ‘Status’ के ऑप्शन से अपने मुताबिक कोई विकल्प चुनें
  • ‘Do you have a claim-ID?’ के विकल्प में  ‘No’ सिलेक्ट करें
  • अपना UAN और सिक्योरिटी कोड दर्ज करें
  • इसके बाद पेज के निचले हिस्से में आपकी UAN डिटेल्स दिखाई जाएंगी। ‘Get OTP’ का विकल्प चुनें
  • आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर OTP भेजा जाएगा, उसे डालें। और ‘Submit’ करें।
  • अब अपनी पर्सनल डिटेल्स भरें और सिक्योरिटी कोड दर्ज करें।
  • ‘Grievance Details’ के सेक्शन में जाकर कोई एक विकल्प चुनें। अगर आप PF अकाउंट से संबंधित शिकायत दर्ज करना चाहते हैं तो ‘PF अकाउंट’ का विकल्प चुनें। अन्य शिकायतों के लिए ‘Other’  का विकल्प चुनें।
  • इसके बाद ‘Grievance category’ और अन्य ऑप्शन चुनें और अपनी शिकायत लिखें।
  • शिकायत से संबंधित कोई स्क्रीनशॉट या डॉक्यूमेंट अपलोड करने के लिए ‘Choose File’ में जाकर ‘Attach’ का विकल्प चुनें।
  • ‘Submit’ पर क्लिक कर शिकायत दर्ज करें।
  • आपके रजिस्टर्ड ईमेल और नंबर पर रजिस्ट्रेशन नंबर भेजा जाएगा।

शिकायत का स्टेटस चेक करने का ये है तरीका

जब आप EPF i-Grievance पोर्टल में शिकायत करते हैं, तब आपको एक रजिस्ट्रेशन नंबर दिया जाता है। इस नंबर का उपयोग करते हुए आप अपनी शिकायत का स्टेटस देख सकते हैं। नीचे इसका तरीका बताया गया है:-

  • https://epfigms.gov.in/ पर जाकर  ‘View Status’ का ऑप्शन चुनें
  • अपना रजिस्ट्रेशन नंबर डालें
  • अब मोबाइल नंबर, ईमेल और सिक्योरिटी कोड डालकर ‘Submit’ का विकल्प चुनें
  • इतना करने के बाद आपकी शिकायत का स्टेटस आपकी स्क्रीन पर नजर आएगा।

EPF कस्टमर केयर को ऐसे संपर्क करें

EPFO कस्टमर्स को ईमेल और कॉल के ज़रिए भी शिकायत और सवाल पूछने का विकल्प देता है। अगर आप कर्मचारी हैं तो employeefeedback@epfindia.gov.in के ईमेल (epfo complaint email id) पर संपर्क करें। अगर एंप्लॉयर हैं तो employerfeedback@epfindia.gov.in इसके ज़रिए कॉन्टैक्ट करें। अगर कॉल के ज़रिए शिकायत दर्ज कराना है, तो इनके टॉल फ्री नंबर (pf customer care number) 1800 118 005 पर संपर्क कर सकते हैं।

शिकायत का कोई जवाब न मिलने पर ऐसे भेजे रिमांडर

किसी भी शिकायत को हल करने के लिए EPFO 15-30 दिन का समय लेता है। अगर आपको शिकायत रजिस्टर कराए इससे ज्यादा समय हो गया है लेकिन आपको इसका कोई हल या जवाब नहीं मिला है तो आप epfo को रिमाइंडर भेज सकते हैं, जिसका प्रोसेस कुछ इस प्रकार है:-

  • https://epfigms.gov.in/ में जाकर तीसरा विकल्प ‘Send Reminder’ को चुनें
  • रजिस्ट्रेशन नंबर, मोबाइल या ईमेल आईडी दर्ज करें।
  • सिक्योरिटी कोड डालकर ‘Submit’ का बटन दबाएं

EPF शिकायत से संबंधित प्रश्न

क्या कोई मेंबर सोशल मीडिया के ज़रिए शिकायत रजिस्टर करा सकता है?

आप सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के ज़रिए भी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। हालांकि, इसे फॉर्मल कंप्लेंट नहीं माना जाएगा।

शिकायत का समाधान करने में EPF कितना समय लेता है?

आपकी शिकायत या सवाल का जवाब देने में EPF 15 से 30 दिनों का समय ले सकता है।

पीएफ का कस्टमर केयर नंबर क्या है?

हां, मेंबर्स कर्मचारी भविष्य निधि के हेल्पलाइन नंबर 1800 118 005 पर कॉल कर कस्टमर केयर (how to contact pf customer care) के पास शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

क्या EPF पोर्टल में अपनी शिकायत से जुड़े डॉक्यूमेंट्स जमा किए जा सकते हैं?

हां, आप EPFiGMS पोर्टल में डॉक्यूमेंट्स अपलोड कर सकते हैं।

EPFiGMS पोर्टल में कितनी बार अपनी शिकायत का स्टेटस चेक किया जा सकता है?

आप कितनी भी बार अपने EPF कंप्लेंट की शिकायत चेक कर सकते हैं।

EPF में अपनी शिकायत का स्टेटस चेक करने के लिए रजिस्ट्रेशन नंबर कहां से मिलेगा?

पोर्टल में अपनी शिकायत दर्ज करने के बाद आपको ईमेल और SMS के ज़रिए रजिस्ट्रेशन नंबर भेजा जाता है।

क्या कर्मचारी व्हाट्सएप नंबर पर पीएफ संबंधी शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

हां, अगर आपको पीएफ संबंधित कोई दिक्कत आती है, तो आप व्हाट्सएप के जरिए उस समस्या का समाधान पा सकते हैं। व्हाट्सएप के ज़रिए आप सुबह 9.15 से शाम 5.45 तक समस्या या शिकायत दर्ज करा सकते हैं। हर क्षेत्र के लिए अलग-अलग व्हाट्सएप नंबर अलग-अलग हैं। अपने एरिया के व्हाट्सएप नंबर जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें।

अन्य ब्लॉग

पर्सनल लोन एक अनसिक्योर्ड लोन होता है, यानी इस लोन क...

Vandana Punj
Vandana Punj
NEFT क्या है? NEFT का फुल फॉर्म और यह कैसे काम करता है? जानिए सबकुछ

आज के इस आर्टिकल में हम NEFT के प्रमुख पहलुओं पर चर्...

Nikita
Nikita
Difference Between IMPS, NEFT & RTGS: फुल फॉर्म, ट्रांजैक्शन लिमिट, फीस और सर्विस टाइमिंग के साथ जानिए सबकुछ

आजकल, एनईएफटी, आरटीजीएस और आईएमपीएस जैसे विभिन्न ऑनल...

Nikita
Nikita