सेविंग स्कीम

सुकन्या समृद्धि योजना और PPF में क्या है अंतर, जानें

सुकन्या समृद्धि योजना और PPF में क्या है अंतर, जानें
Bharti
Bharti

सुकन्या समृद्धि योजना और PPF दोनों ही भारत सरकार द्वारा चालाई जाने वाली सेविंग स्कीम हैं। एक तरफ सुकन्या समृद्धि योजना के अतंर्गत बेटियों के भविष्य के लिए राशि जमा की जाती हैं। वहीं PPF में कोई भी भारतीय नागरिक अपने पैसे जमा कर सकता है। ऐसे में PPF और SSY के बीच प्रमुख अतंर, दोनों में से कौन-सा विकल्प बेहतर है, यह जानने के लिए ये लेख पढ़ें।

पब्लिक प्रोविडेंट फंड और सुकन्या समृद्धि योजना के बीच अंतर

SSY और PPF इन दोनों ही योजनाओं के अपने लाभ और नुकसान हैं। नीचे दोनों के बीच के प्रमुख अंतरों के बारे में बताया गया है:-

  • योग्यता – अनिवासी भारतीयों (NRIs) को छोड़कर कोई भी भारतीय नागरिक PPF अकाउंट खोल सकता है। PPF अकाउंट खोलने के लिए न्यूनतम उम्र 18 साल है। वहीं SSY अकाउंट को बेटियों के नाम पर उनके माता-पिता या अभिभावक द्वारा खोला जाता है। SSY अकाउंट खोलने की अधिकतम उम्र 10 साल है।
  • ब्याज दरें:  PPF की तुलना में SSY में अधिक ब्याज दिया जाता है। PPF की वर्तमान ब्याज दर 7.1% है वहीं SSY में 8% का ब्याज दिया जाता है।
  • डिपॉज़िट राशि: PPF में न्यूनतम 500 रु. और अधिकतम 1,50,000 रु. की डिपॉज़िट की जा सकती है। वहीं सुकन्या समृद्धि योजना में न्यूनतम 250 रु. और अधिकतम 1,50,000 रु.की डिपॉज़िट लिमिट है।
  • अकाउंट खोलने के आधार पर: सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट खोलते वक्त न्यूनतम 1,000 रु. और PPF में न्यूनतम 100 रु. जमा करने होते हैं।
  • राशि का विड्रॉल करने के आधार पर: सुकन्या समृद्धि योजना में आप राशि का विड्रॉल बेटी की उम्र 18 साल होने के बाद ही कर सकते हैं। वहीं PPF का विड्रॉल 6 साल के बाद ही किया जा सकता है।
  • मैच्योरिटी के आधार पर: PPF 15 साल के बाद मैच्योर हो जाती है। वहीं सुकन्या समृद्धि योजना के तहत बेटी की उम्र 18 साल होने पर पार्शल और 21 साल की होने पर पूरा विड्रॉल किया जा सकता है।
  • नॉमिनेशन के मामले में: PPF में नॉमिनेशन की सुविधा है, लेकिन SSY में नॉमिनेशन की सुविधा नहीं है।
  • लोन की सुविधा: PPF में जमा राशि के बदले लोन लिया जा सकता है जबकि SSY में लोन नहीं लिया जा सकता।

ये भी पढ़ें: ELSS या PPF में से किसमें निवेश करना चाहिए?

विवरण पब्लिक प्रोविडेंट फंड सुकन्या समृद्धि अकाउंट
ब्याज दर 7.1% (पहली तिमाही, वित्तीय वर्ष, 2023-24) 8.0% (पहली तिमाही, वित्तीय वर्ष, 2023-24)
अकाउंट खोलने पर भुगतान की जाने वाली राशि ₹100 ₹1000
न्यूनतम डिपॉज़िट ₹500 ₹250
अधिकतम डिपॉज़िट ₹1,50,000 ₹1,50,000
टैक्स बेनिफिट ₹1,50,000 ₹1,50,000
मैच्योरिटी 15 वर्ष 21 वर्ष
प्रीमैच्योर विड्रॉल 6 वित्तीय वर्ष के बाद 18 साल की उम्र के बाद
नॉमिनेशन की सुविधा उपलब्ध उपलब्ध नहीं
लोन की सुविधा उपलब्ध उपलब्ध नहीं

 

अन्य ब्लॉग

SBI MUDRA Loan- जानें एसबीआई ई-मुद्रा लोन क्या है और...

Vandana Punj
Vandana Punj

कैश क्रेडिट (Cash Credit) एक शॉर्ट टर्म लोन होता है,...

Vandana Punj
Vandana Punj

PAN Card Form- जानें पैन कार्ड फॉर्म 49A और 49AA क्य...

Vandana Punj
Vandana Punj