क्रेडिट कार्ड

जानें सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड लेने के 4 फायदों के बारे में

जानें सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड लेने के 4 फायदों के बारे में
Nikita
Nikita

कई बार लोगों को रेगुलर क्रेडिट कार्ड नहीं मिल पाता है। इसके कई कारण हो सकते हैं जैसे ज़ीरो या कम क्रेडिट स्कोर, स्टेबल जॉब ना होना, रेगुलर इनकम ना होना और आदि। ऐसी स्थिति में सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड लेना एक अच्छा विकल्प है, और इसकी मदद से आप अपना क्रेडिट स्कोर भी बना और सुधार सकते हैं। इस लेख में सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड क्या है? और उसके लाभों के बारे में बताया गया है।

सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड क्या है?

सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड बैंक में अपनी एफडी गिरवी रखने के बदले दिए जाते हैं। इस तरह के क्रेडिट कार्ड की क्रेडिट लिमिट आपकी एफडी में जमा राशि के आधार पर तय की जाती, जो कि आमतौर पर एफडी राशि के 80%-90% तक हो सकती है। सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड का उपयोग भी रेगुलर क्रेडिट कार्ड की तरह ही किया जा सकता है, और उसी तरह से ऑफर्स व रिवॉर्ड भी मिलते हैं। हालांकि इसकी बिल पेमेंट में डिफॉल्ट होने पर बिल भुगतान के लिए बैंक आपकी एफडी का इस्तेमाल कर सकता है।

ये भी पढ़ें: क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करने पर मिलते हैं कई लाभ, जानें

सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड के फायदें

सिक्योर्ड कार्ड तुरंत अप्रूव हो जाते हैं

रेगुलर क्रेडिट कार्ड के लिए बैंक आवेदक का क्रेडिट स्कोर, इनकम और बैकग्राउंड चेक करते हैं जिससे इनके अप्रूव्ल में समय लग जाता है या कई बार इनमें से कोई शर्त पूरी ना करने पर एप्लीकेशन मंज़ूर ही नहीं होती। वहीं, सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड के मामले में ऐसा नहीं है। चूंकि बैंक इस कार्ड के बदले अपने पास आपकी एफडी सिक्योरिटी के तौर पर रखता है, इसलिए इनके लिए इनकम, बैकग्राउंड चेक की ज़रूरत नहीं होती और आपको तुरंत ये कार्ड मिल जाता है।

क्रेडिट स्कोर सुधारने में मदद

शून्य या कम क्रेडिट स्कोर वाले व्यक्ति सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड लेकर अपने क्रेडिट स्कोर को बना या सुधार सकते हैं। अगर आप समय पर क्रेडिट कार्ड बिल का भुगतान करते हैं, तो समय के साथ आपका क्रेडिट स्कोर बन जाएगा या उसमें सुधार आएगा। क्रेडिट स्कोर में सुधार होने पर आपको लोन और रेगुलर क्रेडिट कार्ड मिलने की संभावनाएं बढ़ जाएंगी।

एफडी पर मिलता रहता है ब्याज

एफडी के बदले सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड लेने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि एक तरफ आप क्रेडिट कार्ड का लाभ उठा पाते हैं, वहीं दूसरी ओर एफडी राशि पर आपको ब्याज मिलता रहता है और अगर आप समय पर और पूरे क्रेडिट कार्ड बिल का भुगतान करते हैं तो आपको बैंक को कोई ब्याज नहीं देना होता है।

ये भी पढ़ें: क्रेडिट कार्ड बैलेंस ट्रांसफर क्या है? कैसे करें?

सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड के अन्य लाभ

सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड के कई अन्य लाभ भी हैं जैसे रेगुलर क्रेडिट कार्ड की तुलना में सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड के लिए डोक्यूमेंटेशन की प्रक्रिया कम बोझिल होती है, क्योंकि एफडी खुलवाने के दौरान ही अधिकतर डिटेल्स बैंक के पास जमा हो जाती है। इसके अलावा अचानक आई किसी आर्थिक ज़रूरत के लिए आपको एफडी तोड़नी नहीं पड़ती, क्योंकि आप क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कर अपनी ज़रूरत पूरी कर सकते हैं।

 

अन्य ब्लॉग

होम लोन प्री-पेमेंट करने से पहले इन बातों का ध्यान रखें

आमतौर पर अन्य लोन के मुकाबले होम लोन की राशि ज़्यादा ...

Adnan Ali
Adnan Ali
जानें होम लोन इंश्योरेंस क्या है और इसे करवाना क्यों ज़रूरी है?

घर खरीदने के लिए एक बार में बड़ी रकम जुटाना आसान नही...

Bharti
Bharti

पर्सनल लोन का इंटरेस्ट रेट सिक्योर्ड लोन के मुकाबले ...

Vandana Punj
Vandana Punj